Connect with us

News

Malaika Arora: India Best Dancer Judges Malaika Arora Interview Speaks On Acting, James Bond Movie Offer | मलाइका अरोरा का एक्टिंग में कोई इंटरेस्ट नहीं, लेकिन जेम्स बांड की मूवी का ऑफर आया तो सोचेंगी जरूर

Published

on

Malaika Arora: India Best Dancer Judges Malaika Arora Interview Speaks On Acting, James Bond Movie Offer

Dainik Bhaskar

Mar 06, 2020, 08:30 AM IST

बॉलीवुड डेस्क (किरण जैन). इन दिनों मलाइका अरोरा डांस रियलिटी शो ‘इंडियाज बेस्ट डांसर’ में बतौर जज नजर आ रही हैं। मलाइका की मानें तो इससे पहले वे कई रियलिटी शोज का हिस्सा रह चुकी हैं। हालांकि ये ऐसा पहला शो हैं जिसमे वे सिर्फ एक टैलेंट को जज करेंगी और वो हैं ‘डांस’। इससे पहले वे ‘झलक दिखला जा’ और ‘इंडियाज गॉट टैलेंट’ का हिस्सा रह चुकी हैं। हाल ही में दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान, मलाइका ने इस शो से जुडी कुछ बातें हमसे शेयर की। उन्होंने अपने फिटनेस का राज भी शेयर किया।

मलाइका ने साझा की ये बातें

  1. कई लोग मुझसे कहते हैं कि अरे आपने इतने सारे रियलिटी शो किए हैं चाहे तो वो ‘झलक दिखला जा’ या ‘नच बलिये’ हो या कोई और हालांकि ये पहली बार हैं जहां मैं ‘प्योर’ रियलिटी शो जज कर रही हूं। पहले सभी सेलिब्रिटी बेस्ड रियलिटी शो किये हैं। रही बात ‘इंडियाज गॉट टैलेंट’ की तो उसमे कई सारे टैलेंट्स होते हैं, तो ये कहना बिलकुल गलत नहीं कि इतने सालों में पहली बार एक रियल डांस रियलिटी शो जज कर रही हूं।जाहिर हैं प्रेशर तो होगा ही। अच्छी बात ये भी हैं कि इस शो में सब बड़े कंटेस्टेंट्स हैं, कोई बच्चा नहीं हैं। यकीन मानिए बच्चे को जज करना मेरे लिए बहुत मुश्किल है। साथ ही पिछले कई सालों तक एक सोलो कंटेस्टेंट बेस्ड रियलिटी शो टेलीविजन पर नहीं आया हैं। अब तक कपल या ग्रुप बेस्ड होते हैं, लेकिन इसमें सोलो हैं। इन शॉर्ट, मेरे पास इस शो को मना करने के लिए कोई वजह ही नहीं थी।

  2. मेरे साथ गीता कपूर और टेरेन्स इस शो को जज कर रहे हैं जो खुद हमारे देश के बेस्ट कोरियाेग्राफर्स में से एक हैं। कंटेस्टेंट्स के डांसिंग टेक्निक्स की ज़िम्मेदारी उन पर हैं। चाहे मेरा ओपिनियन कुछ भी हो,  मैं उन लोगों से बिलकुल तर्क नहीं करती हूं। मैं बहुत ही इमोशनल इंसान हूं। ऑडियंस जो भी स्क्रीन पर मेरे इमोशंस देखते हैं फिर चाहे वो रोना हो या हंसना, वो बिलकुल स्क्रिप्टेड नहीं होते हैं। साथ ही मैं एंटरटेनमेंट बिजनेस से जुडी हुई हूं तो कंटेस्टेंट्स से भी मैं एंटरटेनमेंट की उम्मीद रखती हूं। मुझे लगता हैं कि आप अपनी जिन्दगी में कुछ भी करो, दुनिया के बेस्ट डांसर भी बन गए लेकिन अगर एंटरटेनमेंट वैल्यू नहीं हैं आपके डांस में तो मेरे लिए वो जीरो हैं। मुझे एंटरटेन करना इन कंटेस्टेंट्स की जिम्मेदारी होंगी। 

  3. मुझे पर्सनली डांस करना बहुत पसंद हैं और यकीन मानिए मौका पाते ही मैं कहीं भी डांस करना शुरू कर देती हूं। मेरे लिए डांस करना एक एंटरटेनमेंट का झरिया हैं। हाल ही में सेट पर एक कंटेस्टेंट का परफॉरमेंस देखकर झूम उठी। अगर वो मुझसे ऐसा करवा सकते हैं तो मेरे लिए वो इस शो के हकदार हैं।

  4. कई लोग हमारे जजिंग को क्रिटिसाइज करते हैं। हालांकि मैं उसपर ध्यान नहीं देती हूं। जैसे की मैंने कहा कि मैं बहुत ही इमोशनल इन्सान हूं और मुझे रोना बहुत जल्दी आता हैं। अब इसे कोई फेक नहीं कह सकता हैं। मैं कोई पत्थर से थोड़ी ना बनी हूं? देखिये ऐसा नहीं है कि मैं क्रिटिसिज्म से डरती हूं। मेरा मानना है कि क्रिटिसिज्म से ही आप आगे बढ़ सकते हो, अपने आपको बेहतर बना सकते हो। लेकिन आप किसीको की किस हद्द तक क्रिटिसाइज करते हो इस पर एक लिमिटेशन होना चाहिए। मैं भी लोगों को कुछ सलाह देती हूं अब वो सामने वाले पर निर्भर है कि वो इसे किस तरह ले। सही स्पिरिट से लिया हुआ क्रिटिसिज्म इंसान को आगे तक ले जाने में मदद करता है। 

  5. अब तक कई फिल्में ऑफर हुई हैं, हालांकि मुझे एक्टिंग में कोई इंटरेस्ट नहीं। हां यदि जेम्स बांड की मूवी का ऑफर आया, तो ज़रूर सोचूंगी। मैं खुश हूं अपने टेलीविज़न कॅरियर से, एक्टिंग का ख्याल ही नहीं आया।

  6. मैं अपने हेल्थ को लेकर बहुत ही पर्टिकुलर हूं। खुद तो हूं ही साथ में गीता और टेरेन्स को भी फास्टिंग करना शुरू करवा दिया है। सेट पर वे मुझसे मेरे फिटनेस के बारे में पूछते रहते हैं और मैं भी उन्हें ज्ञान देने से नहीं चूकती। मैं पिछले एक साल से इंटरमिटेंट फास्टिंग कर रही हूं जिससे मेरी हेल्थ बहुत ही अच्छी हो गई हैं। बहुत ही ज्यादा फर्क नज़र आ रहा है। जिससे मैं बहुत ही संतुष्ट हूं। मेरे लिए फिटनेस मेरी ज़िन्दगी का अहम हिस्सा है। सिर्फ फिजिकली ही नहीं, मेन्टल और इमोशनल फिटनेस बहुत ज़रूरी हैं। यही बात मैंने गीता और टेरेन्स से कही और उन्हें दो हफ्ते इंटरमिटेंट फास्टिंग करने की सलाह दी। बस फिर क्या? अब ये भी इस फास्टिंग के दीवाने हो गए।

  7. मैं बाहर का खाना बिलकुल नहीं खाती हूं, सिर्फ और सिर्फ घर का खाना ही खाती हूं। ये मेरे आस-पास रहने वाले सभी लोग जानते हैं। साथ ही मैं खाने की टाइमिंग को लेकर बहुत ही पर्टिकुलर हूं। चाहे कुछ भी हो मैं खाने के लिए वक्त निकाल ही लेती हूं। वैसे भी ज्यादा वक्त नहीं लगता मुझे खाने के लिए, तो इसमें मैं बिलकुल समझौता नहीं करती। मुझे देखकर गीता और टेरेन्स भी इस पैटर्न को फॉलो कर रहे हैं, देखते हैं  कितना सफल हो पाते हैं। ये एक चैलेंज हैं।

  8. कुछ सालों पहले मैं योगा से जुड़ी और उसके बाद मानो मुझे योग से प्यार हो गया है। एक दिन भी योगा के बिना नहीं बीतता है। मैं शुरुआत सूर्यनमस्कार से करती हूं और फिर मेडिटेशन करती हूं। योगा से मेरी ज़िन्दगी में बहुत फर्क पड़ा।


Source link

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Recent Posts

Categories

Trending

%d bloggers like this: