Connect with us

News

Shraddha Kapoor Birthday Special: Shakti Kapoor Shares Memories Of Her Childhood | 33 साल की हुईं श्रद्धा, पिता शक्ति कपूर बोले- मेरे बर्थडे पर जब उसने पियानो बजाया तो आंखों में आंसू आ गए थे

Published

on

Shraddha Kapoor Birthday Special: Shakti Kapoor Shares Memories Of Her Childhood

Dainik Bhaskar

Mar 03, 2020, 06:59 AM IST

बॉलीवुड डेस्क (उमेश कुमार योद्धा). श्रद्धा कपूर 33 साल की हो गई हैं। इस मौके पर उनके पिता शक्ति कपूर ने उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ रोचक बातें हमारे साथ शेयर की। शक्ति ने श्रद्धा के बचपन का जिक्र करते हुए कहा, “बचपन में अपने जन्मदिन को लेकर वह बहुत उत्सुक रहती थी। उसे लाल-पीले-हरे फ्रॉक पसंद थे। परी बनने का उसे शौक था। साथ ही पियानो बजाना बहुत पसंद था।”

‘जिंदगीभर नहीं भूल सकता वह मोमेंट’

  1. 4 साल की उम्र में जब उसकी मां ने उसे पियानो ले कर दिया था,  तब वह खुशी से झूम उठी थी। वह वो दिन कभी नहीं भूलती। मुझे याद है कि यही पियानो बजाकर उसने मेरा बर्थडे सेलिब्रेट किया था। तब मेरी आंखों में खुशी के आंसू आ गए थे। दरअसल, एक बार में मद्रास में शूटिंग कर रहा था। पत्नी के बहुत ही दबाव बनाने के बाद मैं दिनभर के लिए मुंबई आया था। लेकिन तब वह कहीं बाहर गई थी। उसे घर पर न पाकर मैं नाराज बैठा था। बेटी ने पापा आप क्यों नाराज हैं? मैंने उसे वजह बताई तो उसने कहा-कोई बात नहीं है। मैं हूं न। फिर वह कमरे से पियानो लेकर आई और उसे बजा कर मुझे बर्थडे विश किया। मैं जिंदगीभर वह मोमेंट नहीं भूल सकता। तब वह सिर्फ 6 साल की थी।

  2. इस बार उसके बर्थडे से 1 दिन पहले मैं बाहर जा रहा था। मैंने पूछा कि महारानी को क्या गिफ्ट लेकर आऊं? तब वह मेरे गले लगकर बोली कि अगर मुझे वाकई में गिफ्ट देना चाहते हो, तब आप अपनी हेल्थ का ध्यान रखो। इसके अलावा मुझे और कुछ नहीं चाहिए। मुझे मेरे पिताजी हेल्दी और उनकी लंबी उम्र चाहिए। ऐसा कहकर वह कर रोने लगी। आज वह बहुत रोई। वह चाहती है कि सब की सेहत अच्छी रहे। वह कहती है कि मुझे मटेरियल में कुछ भी नहीं चाहिए। क्योंकि मटेरियल से कुछ नहीं होता है। हमेशा माता-पिता की लंबी उम्र की दुआ मांगती है।

  3. अनुशासन के मामले में वह नंबर एक है। इसे मैं अपनी ही देन कहूंगा। क्योंकि मैं शुरू से ही अनुशासित रहा हूं। अगर मेरी  शूटिंग 9:00 बजे शुरू होनी होती है तो मैं 8:45 पर ही लोकेशन पर पहुंचता हूं। एक्सरसाइज, जॉगिंग, यह सब उसने मुझसे ही सीखा है। मां से उसे संस्कृति, पूजा-पाठ, अच्छी नीयत और गले की आवाज मिली है।

  4. श्रद्धा जब घर पर होती है तो नाचती-कूदती रहती है। खूब मौज-मस्ती करती है। मूड होता है तो बाप के लिए सब कुछ करती है। किचन में काम भी करती है। साफ-सफाई का उसे बहुत शौक है। वह सेंडविच, खिचड़ी, चपाती समेत बहुत कुछ बनाती है। उसमें बहुत गुण है। प्योर वेजीटेरियन है। उसका कहना है कि सुबह उठकर मंजन करना चाहिए। हर काम करने के बाद हाथ धो लेना चाहिए। हर चीज फ्रेश ही खाना चाहिए। पेप्सी-कोकोकोला नहीं पीना चाहिए, क्योंकि ये हानिकारक होते हैं। फ्रेश जूस पीना चाहिए।

  5. इंडस्ट्री में उसे 10 साल हो गए, जो बहुत अच्छे बीते। कोई लड़की अगर नंबर वन रोल और फिल्में कर रही है तो इससे अच्छी बात क्या हो सकती है? उसकी की हुई फिल्मों की बात करूं तो मुझे ‘आशिकी 2’ और ‘छिछोरे’ बहुत अच्छी लगी।


Source link

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent Posts

Categories

Trending

%d bloggers like this: